बुलडोजर एक्शन पर एससी में सुनवाई टली

नई दिल्ली । पैगंबर विवाद पर हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश में चल रही बुलडोजर की कार्रवाई के खिलाफ जमीयत उलेमा ए हिंद की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई टल गई है । सुप्रीम कोर्ट ने जमीयत - उलमा - ए - हिंद द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई 29 जून के लिए टाल दी है । जमीयत की तरफ से दायर याचिका में उत्तर प्रदेश के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश देने की मांग की गई है कि राज्य में संपत्तियों का कोई और विध्वंस उचित प्रक्रिया का पालन किए बिना नहीं किया जाए । जमीयत का आरोप है कि राज्य में हुई हिंसा के बाद एक समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है ।

मलिक की अंतरिम रिहाई याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

नई दिल्ली। मनी लॉन्ड्रिंग व दाऊद इब्राहिम के करीबियों से सम्पत्ति खरीदने के मामले में फंसे राकांपा नेता नवाब मलिक को बड़ा झटका लगा है। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने उनकी याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया है। दरअसल, मलिक ने बॉम्बे हाईकोर्ट के उस आदेश के खिलाफ याचिका दायर की थी, जिसके तहत हाईकोर्ट ने उनके तत्काल रिहाई के अंतरिम आवेदन को खारिज कर दिया था। दरअसल मलिक के खिलाफ प्रवर्तन निदेशायल लॉन्ड्रिंग मामले की जांच कर रहा है। फरवरी से मलिक ईडी की गिरफ्त में हैं। जमानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम जांच के इस स्टेज पर दखल नहीं देंगे। ऐसे में आप उचित कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल कीजिए। वहीं मलिक ने अपनी रिहाई की मांग करते हुए कहा था कि पीएमएलए कानून 2005 का है, लेकिन उनकी गिरफ्तारी 1999 में हुए लेन-देन के लिए की गई। ईडी ने भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में एनसीपी नेता नवाब मलिक के खिलाफ बृहस्पतिवार को आरोपपत्र दाखिल किया था।

हिजाब विवाद पर छात्राओं को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका

नई दिल्ली। हिजाब विवाद खड़ा करने वालों को सुप्रीम कोर्ट ने जोर का झटका दिया है। कोर्ट ने आज इस मामले की जल्द सुनवाई करने की अर्जी को खारिज कर दिया। कोर्ट में अर्जी दाखिल करने वाली छात्राओं के वकील देवदत्त कामत ने कहा था कि हाईकोर्ट के फैसले की वजह से छात्राओं को परीक्षा देने में दिक्कत आ रही है। इस पर चीफ जस्टिस एनवी रमना ने कहा कि इस मामले का परीक्षा से लेना-देना नहीं है और जल्द सुनवाई नहीं की जाएगी। इससे पहले कर्नाटक हाईकोर्ट के हिजाब मामले में छात्राओं की याचिका खारिज किए जाने के बाद मुस्लिम छात्राओं ने परीक्षा में शामिल होने से इनकार कर दिया था।कर्नाटक हाईकोर्ट का फैसला आने के बाद राज्य के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री बीसी नागेश ने साफ कर दिया था कि जो छात्राएं इम्तिहान में शामिल नहीं होंगी, उनके लिए दोबारा ये आयोजित नहीं कराई जाएंगी। नागेश ने कहा था कि अदालत ने जो भी कहा है, हम उसका पालन करेंगे। परीक्षा में गैरहाजिर रहना अहम फैक्टर होगा, कारण नहीं। चाहे वो हिजाब विवाद, तबीयत खराब, उपस्थित रहने में असमर्थता हो या परीक्षा की तैयारी नहीं होने की वजह से हो। नागेश ने कहा था कि अंतिम परीक्षा में गैरहाजिर रहने पर दोबारा परीक्षा नहीं कराई जाएगी।इससे पहले कर्नाटक हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि हिजाब इस्लाम का जरूरी धार्मिक हिस्सा नहीं है। कोर्ट ने इसके साथ ही क्लास में हिजाब पहनने की मंजूरी देने की मुस्लिम छात्राओं की अर्जी खारिज कर दी थी। हाईकोर्ट ने कहा था कि स्कूल की यूनिफॉर्म का नियम एक तर्कसंगत पाबंदी है और संवैधानिक है। इसे चुनौती नहीं दी जा सकती।

सरकार ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के लिए आधुनिकीकरण योजना- IV योजना को मंजूरी दी

  • गृह मंत्रालय द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह के नेतृत्व में 01.02.2022 से 31.03.2026 तक कुल 1,523 करोड़ रुपये के वित्तीय परिव्यय के साथ आधुनिकीकरण योजना-IV लागू की जाएगी
    सरकार ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के लिए आधुनिकीकरण योजना- III के बाद "सीएपीएफ के लिए आधुनिकीकरण योजना- Iv" नामक योजना को मंजूरी दे दी है।
  • योजना के कार्यान्वयन से सीएपीएफ को समग्र परिचालन दक्षता/तैयारी में सुधार करने में मदद मिलेगी
  • दिल्ली।केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह के मार्गदर्शन में केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा 1.02.2022 से 31.03.2026 तक कुल 1,523 करोड़ रुपये के वित्तीय परिव्यय के साथ सीएपीएफ के लिए आधुनिकीकरण योजना-4 लागू की जानी है और सीएपीएफ को विभिन्न थिएटरों में उनकी तैनाती की विभिन्न प्रणालियों को ध्यान में रखते हुए, उनकी परिचालन आवश्यकता के अनुसार अत्याधुनिक हथियार और उपकरण से लैस किया जाएगा। इसके अलावा, सीएपीएफ को उन्नत आईटी समाधान भी प्रदान किए जाएंगे। योजना के कार्यान्वयन से सीएपीएफ को समग्र परिचालन दक्षता/तैयारी में सुधार लाने में मदद मिलेगी, जिससे देश में आंतरिक सुरक्षा परिदृश्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। यह अंतरराष्ट्रीय सीमा/एलओसी/एलएसी के साथ-साथ विभिन्न थिएटरों, जैसे वामपंथी उग्रवाद से प्रभावित क्षेत्रों, जम्मू और कश्मीर के केंद्रशासित प्रदेशों, लद्दाख और उग्रवाद से प्रभावित पूर्वोत्तर राज्यों की चुनौतियों से निपटने के लिए सरकार की क्षमता को मजबूत करेगा।

    प्रधानमंत्री ने भागलपुर में धमाके से हुई जनहानि पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया

    दिल्ली।प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भागलपुर में धमाके से हुई जनहानि पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया है। प्रधानमंत्री ने इस घटना से संबंधित हालात के बारे में बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार से बातचीत की और कहा कि प्रशासन राहत और बचाव कार्यों में लगा हुआ है तथा पीड़ितों को हर संभव सहायता उपलब्‍ध कराई जा रही है।

    एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा;

    ‘‘बिहार के भागलपुर में धमाके से हुई जनहानि की खबर पीड़ा देने वाली है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। घटना से जु़ड़े हालातों पर मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार से भी बात हुई। प्रशासन राहत और बचाव कार्यों में लगा हुआ है और पीड़ितों को हर संभव सहायता दी जा रही है।’’

    प्रधानमंत्री ने मिजोरम के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई दी

    प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मिजोरम के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई दी है।

    प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा;

    "मिजोरम के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई। भारत को जीवंत मिजो-संस्कृति और राष्ट्रीय प्रगति में मिजोरम के योगदान पर बहुत गर्व है। मैं मिजोरम के लोगों के अच्छे स्वास्थ्य और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।"

    प्रधानमंत्री ने अरुणाचल प्रदेश के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को शुभकामनाएं दीं

    प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अरुणाचल प्रदेश के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को शुभकामनाएं दी हैं।

    प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा;

    "अरुणाचल प्रदेश के लोगों को राज्य के स्थापना दिवस पर शुभकामनाएं। राज्य के लोग अपनी शानदार प्रतिभा और मेहनती स्वभाव के लिए जाने जाते हैं। कामना करता हूँ कि राज्य आने वाले समय में विकास की नई ऊंचाइयां छुए।"

    श्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने केआईओसीएल टाउनशिप में आवासीय परिसर की आधारशिला रखी

    दिल्ली। केन्द्रीय इस्पात मंत्री श्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने केआईओसीएल टाउनशिप में आवासीय परिसर की आधारशिला रखने के लिए आज मंगलुरु का दौरा किया। इस टाउनशिप में एक गेस्ट हाउस, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, सामुदायिक हॉल, खेल का मैदान और फिटनेस पार्क है। फ्लैटों का निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद इस टाउनशिप में रहने वाले कर्मचारियों को इनका लाभ मिलेगा।
    इस टाउनशिप में उपलब्ध आवास (क्वार्टर) 30 साल से भी अधिक पुराने थे और उनमें रखरखाव संबंधी कई समस्याएं थीं। इसे ध्यान में रखते हुए, प्रबंधन ने एक आवासीय भवन बनाने की योजना बनाई है जिसमें 60 फ्लैट होंगे और इसमें चरणबद्ध तरीके से नए ब्लॉक जोड़े जाएंगे।इस अवसर पर इस्पात मंत्रालय के अधिकारी; श्री टी समीनाथन, सीएमडी; श्री एस.के. गोराई, निदेशक (एफ); श्री केवी भास्कर रेड्डी, निदेशक (पीएंडपी); केआईओसीएल के वरिष्ठ अधिकारी और टाउनशिप के निवासी उपस्थित थे।

    राष्ट्रपति ने दो कीर्ति चक्र, एक वीर चक्र और दस शौर्य चक्र प्रदान किए

    दिल्ली। राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने, जो सशस्त्र बलों के सर्वोच्च कमांडर हैं, आज सुबह (22 नवंबर, 2021) राष्‍ट्रपति भवन, नई दिल्‍ली में आयेाजित रक्षा अलंकरण समारोह (चरण-1) के दौरान सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों के कर्मियों के लिए वीरता पुरस्‍कार प्रदान किए। एक मरणोपरांत सहित दो कीर्ति चक्र, एक वीर चक्र और दो मरणोपरांत सहित 10 शौर्य चक्र प्रदान किए गए। ये वीरता पुरस्‍कार विशिष्‍ट सेवा, अदम्य साहस और कर्तव्य के प्रति अत्यधिक समर्पण का प्रदर्शन करने वाले कर्मियों को प्रदान किए गए।
    राष्ट्रपति ने असाधारण रूप से विशिष्ट सेवा के लिए 13 परम विशिष्ट सेवा पदक, दो उत्तम युद्ध सेवा पदक और 24 अति विशिष्ट सेवा पदक भी प्रदान किए।

    थल सेना अध्यक्ष इजरायल के दौरे पर रवाना

    दिल्ली। थल सेनाध्यक्ष जनरल एम. एम. नरवणे 15 से 19 नवंबर 2021 तक इजरायल दौरे के लिए रवाना हो गए हैं। यह सेना प्रमुख का पहला इजरायल दौरा है। अपनी यात्रा के दौरान जनरल एम. एम. नरवणे इजरायल के वरिष्ठ सैन्य व असैन्य अधिकरियों से मुलाकात करेंगे, और वह भारत-इजरायल रक्षा संबंधों को अधिक प्रगाढ़ करने के तौर-तरीकों पर चर्चा करेंगे। सेना अध्यक्ष सुरक्षा प्रतिष्ठान के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कई बैठकों के माध्यम से इजरायल और भारत के बीच उत्कृष्ट द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को आगे बढ़ाएंगे तथा रक्षा क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। जनरल नरवणे सेवा प्रमुखों के साथ बातचीत करेंगे और इजरायली रक्षा बलों (आईडीएफ) के थल सेना मुख्यालय का दौरा करेंगे।