सोनभद्र बार एसोसिएशन वर्ष 2022-23 चुनाव कार्यक्रम घोषित

  • 22 को होगा मतदान, 23 को होगी मतगणना व विजयी पदाधिकारियों की घोषणा
  • 6 से मिलेगा पर्चा, 7 से होगा दाखिला
  • चुनावी सरगर्मी बढ़ी, प्रत्याशियों का समर्थकों के साथ सम्पर्क हुआ तेज

  • सोनभद्र। राबर्ट्सगंज कचहरी परिसर में सोनभद्र बार एसोसिएशन के वर्ष 2022-23 के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होते ही चुनावी सरगर्मी बढ़ गई है। फिलहाल शुक्रवार को अध्यक्ष व महामंत्री पद के प्रत्याशियों द्वारा अपने समर्थकों के साथ जनसंपर्क करते देखा गया। इतना ही नहीं अध्यक्ष व महामंत्री पद के प्रत्याशियों की कचहरी परिसर में जगह-जगह बैनर, पोस्टर, पम्पलेट व होर्डिंग लग गई है।
    मुख्य चुनाव अधिकारी एडवोकेट सुरेश सिंह ने बताया कि सोनभद्र बार एसोसिएशन के वर्ष 2022-23 के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी गई है। 6 व 7 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3 बजे कबीच पर्चा का वितरण किया जाएगा। 7 व 8 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3बजे के बीच पर्चा दाखिल किया जाएगा। 9 दिसंबर को आपत्ति, जांच व प्रत्याशियों के पर्चा दाखिला की सूची जारी की जाएगी। 12 दिसंबर को पर्चा की वापसी के साथ ही वैध प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी। 13 दिसंबर को मतदाता सूची का प्रत्याशियों में वितरण किया जाएगा। 19 दिसंबर को टेंडर मतदान तथा 22 दिसंबर को मतदान एवं 23 दिसंबर को मतगणना एवं विजयी प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी। इसके बाद एल्डर कमेटी के समक्ष कार्यकारिणी को शपथ दिलाई जाएगी।
  • पर्चा शुल्क 1500 से 5000 तक

  • सोनभद्र। मुख्य चुनाव अधिकारी एडवोकेट सुरेश सिंह ने बताया कि विभिन्न पदों के लिए पर्चा शुल्क 1500 से 5000 रुपये के बीच है। उन्होंने यह भी बताया कि अध्यक्ष पद के लिए सर्वाधिक 5000 रुपये पर्चा शुल्क है। उसके बाद वरिष्ठ उपाध्यक्ष व महामंत्री के लिए 4000 रुपये पर्चा शुल्क है। इसी प्रकार से उपाध्यक्ष व कोषाध्यक्ष का पर्चा 3000 रुपये शुल्क है। संयुक्त मंत्री 2500 रुपये, वरिष्ठ कार्यकारिणी सदस्य 2000 रुपये व कनिष्ठ कार्यकारिणी सदस्य 1500 रुपये पर्चा शुल्क है।
    अध्यक्ष व महामंत्री पद के प्रत्याशियों ने किया सम्पर्क
    सोनभद्र। राबर्ट्सगंज कचहरी परिसर में सोनभद्र बार एसोसिएशन के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होते ही सिर्फ अध्यक्ष व महामंत्री पद के प्रत्याशियों के जरिए समर्थकों के साथ जनसंपर्क शुरू हो गया है। वहीं बैनर, पोस्टर, पम्पलेट व होर्डिंग से भी कचहरी परिसर गुलजार हो गया है। फिलहाल अध्यक्ष पद के लिए पूनम सिंह, नरेंद्र कुमार पाठक, हेमनाथ द्विवेदी, विजय प्रकाश वर्मा व उमेश मिश्रा द्वारा सम्पर्क किया जा रहा है। हालांकि अध्यक्ष पद पर मनोज कुमार पांडेय का भी नाम चर्चा में है। इसी प्रकार से महामंत्री पद पर राजीव कुमार सिंह गौतम, आनन्द कुमार मिश्र, अरुण कुमार सिंघल, शारदा प्रसाद मौर्या के जरिए सम्पर्क किया जा रहा है। हालांकि महामंत्री पद पर अजय दुबे व मनोज दुबे का भी नाम चर्चा में है। फिलहाल पर्चा दाखिला के बाद ही सही प्रत्याशियों के बारे में पता चलेगा।

    5 दिसंबर तक नए अधिवक्ता पंजीकरण कराएं: जयनारायण पांडेय

    सोनभद्र। बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के उपाध्यक्ष एडवोकेट जयनारायण पांडेय ने बताया कि बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश द्वारा अधिवक्ता पंजीकरण पर किसी प्रकार की कोई रोक नहीं लगाई गई है। बल्कि पंजीकरण का कार्य निर्बाध रूप से संपादित किया जा रहा है। जो आगे भी किया जाता रहेगा। इतना जरूर है कि वर्ष 2022 में पंजीकरण कराने के लिए 5 दिसंबर तक ही आवेदन मान्य होगा। इसके बाद जो पंजीकरण होगा वर्ष 2023 में ही होगा।
    श्री पांडेय ने यह भी बताया कि बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने वेरिफिकेशन परिचय पत्र व प्रमाण पत्र पर भी रोक लगा दिया है। इसकी वजह से जिन अधिवक्ताओं का वैधता वर्ष 2022 अंकित है वह भी बार काउंसिल ऑफ इंडिया के अग्रिम आदेश आने तक वैध रहेगा। क्योंकि जब तक बार काउंसिल ऑफ इंडिया से कोई आदेश नहीं आएगा तब तक वेरिफिकेशन परिचय पत्र व प्रमाण पत्र के नवीनीकरण की प्रक्रिया आरम्भ नहीं हो सकेगी। उन्होंने दूरभाष पर हुई बातचीत में स्पस्ट करते हुए कहा कि बार काउंसिल ऑफ इंडिया के आगामी आदेश तक पूर्व में जारी वेरिफिकेशन परिचय पत्र व प्रमाण पत्र ही वैधानिक, मान्य व प्रभावी है।

    सोनभद्र के सभी ब्लाकों में स्थापित होगा प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन यूनिट

    सोनभद्र। प्लास्टिक मुक्त होने की दिशा में सोनभद्र एक कदम और आगे बढ़ रहा है। अब जिले के सभी ब्लाकों में प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन यूनिट की स्थापना की जाएगी।
    जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह ने बताया कि जिले में सिंगल यूज प्लास्टिक के निस्तारण के लिए चल रहे अनूठे अभियान के तहत ग्राम पंचायतों के सभी घरों पर बोरी टांग कर प्रयोग के बाद प्लास्टिक का एकत्रीकरण किया जा रहा है। एकत्रित किए गए प्लास्टिक के निस्तारण के लिए सभी 10 विकास खंडों में प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट यूनिट की स्थापना की जाएगी। प्लास्टिक अपशिष्ट के उचित प्रबंधन के लिए यह व्यवस्था स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के द्वितीय चरण के अंतर्गत किया जाएगा। जनपद के सभी 10 विकास खंड का चयन शासन द्वारा किया गया है।
    डीपीआरओ ग्राम पंचायतों में फैल रहे प्लास्टिक के निस्तारण के लिए जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह के द्वारा एक अनूठा अभियान चलाया जिससे हर घर पर बोरिया टांग कर प्लास्टिक इकट्ठा किया जाने लगा, जिससे वातावरण में प्लास्टिक ना फैले ग्राम पंचायत के घरों पर संकलित प्लास्टिक को अस्थाई तौर पर डाला सीमेंट फैक्ट्री निस्तारण के लिए भेजा जाता रहा। शासन द्वारा अब सभी विकास खंडों में प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट यूनिट स्थापित करने का निर्देश दिया है। प्रति यूनिट 16 लाख से लगने वाले प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट यूनिट का प्रस्ताव शासन ने मांगा है। मिशन निदेशक स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण ने प्लास्टिक मैनेजमेंट यूनिट लगाए जाने के लिए सर्वप्रथम प्राथमिकता के उन ग्राम पंचायतों में जहां पर रिसोर्स रिकवरी सेंटर स्थापित हो रहे है या ऐसी ग्राम पंचायत जो बाजार वाली ग्राम पंचायत एवं बड़ी ग्राम पंचायत हो वहां पर इकाई स्थापित करने का निर्देश दिया है। प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट यूनिट में कई तरह की मशीन लगाई जाएंगी जिससे प्लास्टिक को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटा जाएगा। उसका उपयोग सड़क बनाने में अथवा प्लास्टिक ब्रिक बनाने में एवं अन्य तरीके से रि साइकिल कर अन्य कार्य में लिया जाएगा जिससे कि प्लास्टिक का सही प्रबंधन हो सके। डीपीआरओ विशाल सिंह ने बताया कि विकास खण्ड से प्रस्ताव मांगा गया है। यूनिट की स्थापना से जनपद में चल रहे मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी अभियान को और गति मिलेगी।

    वन विभाग के सचल दस्ते ने साखू के बोटे बरामद, छह लोग पकड़े गए

    म्योरपुर ( सोनभद्र)। वन विभाग म्योरपुर के सचल दस्ते ने मुखबिर की सूचना पर बघियानार नाले जंगल में गुरुवार की देर रात आरा, कुल्हाड़ी व साखू के तीन बोटे के साथ छह लोगों को धर दबोचा। सभी को पकड़कर रेंज कार्यालय लाया गया। साखू के बोटे को सीज कर दिया गया है। पकड़े गए सभी लोगो के खिलाफ वन अधिनियम के तहत कार्यवाही की जा रही है। पकड़े गए सभी लोग ग्राम महुअरिया के बताए जा रहे है। लोगो की माने तो इस वन क्षेत्र में कीमती लकड़ियों की अवैध कटान कुछ दिनों से व्यापक पैमाने पर हो रही है। इस टीम में वन क्षेत्राधिकारी शहजादा इस्माइल, वन दरोगा श्यामलाल व वनरक्षक सर्वेश कुमार , सत्येंद्र सिंह ,गोविंद कुमार, विद्या पांडे चंद्रभान, ओम प्रकाश जायसवाल शामिल रहे।

    चंदा हत्याकांड के दोषी दम्पति को उम्रकैद

  • 13-13 हजार रुपये अर्थदंड, न देने पर एक-एक वर्ष की अतिरिक्त कैद
  • साढ़े 16 वर्ष पूर्व अपहरण कर की गई थी चंदा की हत्या
  • सोनभद्र। साढ़े 16 वर्ष पूर्व हुए चंदा हत्याकांड के मामले में अपर सत्र न्यायाधीश द्वितीय राहुल मिश्रा की अदालत ने वृहस्पतिवार को सुनवाई करते हुए दोषसिद्ध पाकर दोषी दम्पति काशी यादव व माली देवी को उम्रकैद एवं 13-13 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। वहीं अर्थदंड न देने पर एक-एक वर्ष की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। अभियोजन पक्ष के मुताबिक चोपन थाना क्षेत्र के पटवध गांव की बबनी देवी पत्नी लालमनी ने 14 जुलाई 2006 को चोपन थाने में दी तहरीर में आरोप लगाया था कि उसकी बेटी चंदा 19 जून 2006 को घर से अपने पीसीओ के बिल को जमा करने के बाबत टेलीफोन विभाग के एसडीओ से मिलने चोपन गई थी, लेकिन वह वापस नहीं लौटी। बेटी का रंजिशन चोपन से ही अपहरण करा लिया गया है। उसे पूर्ण संदेह है कि यह कार्य चोपन गांव निवासी काशी यादव व उसकी पत्नी माली देवी समेत गांव-घर के कई लोगों ने मिलकर किया है। आज तक उसका पता नहीं चला। उसे भय है कि ये लोग बेटी चंदा को मार डालेंगे। इस तहरीर पर काशी यादव पुत्र दशरथ व माली देवी पत्नी काशी यादव निवासीगण कुरहुल, थाना चोपन, जिला सोनभद्र समेत अन्य आरोपियों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज किया गया था। पुलिस विवेचना के दौरान चंदा का शव जंगल से बरामद हुआ था। पर्याप्त सबूत पाए जाने पर विवेचक ने न्यायालय में चार्जशीट दाखिल किया था। मामले की सुनवाई के दौरान अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं के तर्कों को सुनने, गवाहों के बयान एवं पत्रावली का अवलोकन करने पर दोषसिद्ध पाकर दोषी काशी यादव व माली देवी को उम्रकैद एवं 13-13 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड न देने पर एक-एक वर्ष की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। अभियोजन पक्ष की ओर से अभियोजन अधिकारी विजय प्रकाश यादव ने बहस की।

    राज्यमंत्री ने रेणुकूट व पिपरी में विकास कार्यों का किया लोकार्पण

  • भाजपा की सरकार बहा रही विकास की गंगा- संजीव गोंड
  • सोनभद्र। रेणुकूट राधाकृष्ण मंदिर के समीप स्थित सत्संग हाल में शुक्रवार को प्रदेश के समाज कल्याण राज्य मंत्री संजीव गोंड़ ने रेणुकूट नगर पंचायत क्षेत्र में कराए गए विकास कार्यों का शिलान्यास और उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार विकास की गंगा बहा रही है जिसकी वजह से आगामी निकाय चुनाव में भाजपा की जीत तय है, उन्होंने कहा कि तमाम नगर पंचायतों में बढ़ाए गए क्षेत्र के साथ-साथ नई नगर पंचायतों में भी युद्ध स्तर पर कार्य कराए जा रहे हैं ताकि वहां के रहवासियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हो सके। रेणुकूट नगर पंचायत में भी बड़ी संख्या में विकास कार्य पूरे हो चुके हैं और अभी तमाम कार्य चल रहे हैं। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वह पूरे जी जान से नगर निकाय चुनाव में लगकर पार्टी को जीत दिलाएं। कार्यक्रम में उन्होंने 46 कार्यों का लोकार्पण और उद्घाटन किया। जिसमें 18 कार्यों का लोकार्पण और 28 कार्यों का शिलान्यास किया गया। इस मौके पर नगर पंचायत अध्यक्ष निशा सिंह, जगदीश बैसवार, अधिशासी अधिकारी लल्लन प्रसाद यादव समेत बड़ी संख्या में नगरवासी मौजूद रहे। वहीं नगर पंचायत पिपरी में राज्यमंत्री द्वारा दस शिलापट्ट का उद्घाटन व शिलान्यास किया गया। राज्यमंत्री संजीव गौड़ ने नगर पंचायत पिपरी को 50 बेड का वातानुकूलित रैन बसेरा के निर्माण की हरी झंडी दिखाई। इस मौके पर उन्होंने कहा कि दोनों नगर पंचायत के निवासियों के लिए संयुक्त रुप से पिपरी में नगर स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण कराया जाएगा। पिपरी नगर पंचायत परिक्षेत्र में वर्षों से चल रहे विवादित पीपी एक्ट एवं भूमि के मालिकाना हक को लेकर पिपरी वासियों को आश्वस्त किया। कहा कि यहां का मामला माननीय मुख्यमंत्री के संज्ञान में है। कैबिनेट का निर्णय यहां के लोगों के हक में होगा। इस मौके पर नगर पंचायत अध्यक्ष दिग्विजय प्रताप सिंह, अधिशासी अधिकारी अंशुमान सिंह समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

    पॉक्सो एक्ट के दोषी देवर-भाभी को 10-10 वर्ष की कैद

  • देवर को 30 हजार रुपये व भाभी को 20 हजार रुपये अर्थदंड
  • नौ वर्ष पूर्व नाबालिग लड़की के साथ हुए दुष्कर्म व छेड़छाड़ का मामला
  • अर्थदंड की समूची धनराशि 50 हजार रुपये पीड़िता को मिलेगी
  • सोनभद्र। नौ वर्ष पूर्व 15 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ हुए दुष्कर्म एवं छेड़छाड़ किए जाने के मामले में अपर सत्र न्यायाधीश/ विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट सोनभद्र निहारिका चौहान की अदालत ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए दोषसिद्ध पाकर दोषी देवर जितेंद्र व भाभी रिंकी को 10-10 वर्ष की कैद एवं देवर को 30 हजार रुपये व भाभी को 20 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड न देने पर 6-6 माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी पड़ेगी। वहीं अर्थदंड की समूची धनराशि 50 हजार रुपये पीड़िता को मिलेगी।
    अभियोजन पक्ष के मुताबिक पन्नूगंज थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति ने 27 अगस्त 2013 को न्यायालय में दिए 156(3) सीआरपीसी के प्रार्थना पत्र में अवगत कराया था कि 21 अगस्त 2013 को दोपहर 12 बजे उसकी 15 वर्षीय नाबालिग बेटी को पन्नूगंज थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव की रिंकी देवी पत्नी राजेश ने आवश्यक कार्य से अपने घर बुलाया और दरवाजा बंद कर लिया। उसके बाद उसके साथ उसके देवर जितेंद्र पुत्र रामराज हलुआई ने जबरन निर्वस्त्र कर बलात्कार किया। इसके अलावा चाकू सटाकर किसी से बताने पर हत्या करने की धमकी देवर व भाभी ने उसकी बेटी को दिया। किसी तरह बेटी घर पहुंची तो आपबीती सुनाई। इसकी सूचना थाने पर दिया कोई कार्रवाई नहीं हुई। तब एसपी को रजिस्टर्ड डाक से सूचना दिया, फिर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। तब कोर्ट के आदेश पर पन्नूगंज पुलिस ने 23 अक्तूबर 2013 को दुष्कर्म, छेड़खानी व पॉक्सो एक्ट में एफआईआर दर्ज कर मामले की विवेचना शुरू कर दिया। विवेचक ने पर्याप्त सबूत मिलने पर न्यायालय में जितेंद्र व रिंकी के विरुद्ध चार्जशीट दाखिल किया था। मामले की सुनवाई करते हुए अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं के तर्कों को सुनने, गवाहों के बयान एवं पत्रावली का अवलोकन करने पर दोषसिद्ध पाकर दोषी देवर जितेंद्र व भाभी रिंकी को 10-10 वर्ष की कैद एवं जितेंद्र को 30 हजार रुपये अर्थदंड व रिंकी को 20 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड अदा न करने पर 6-6 माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी। वही अर्थदंड की समूची धनराशि 50 हजार रुपये पीड़िता को मिलेगी। अभियोजन पक्ष की तरफ से सरकारी वकील दिनेश प्रसाद अग्रहरि,सत्य प्रकाश त्रिपाठी एवं नीरज कुमार सिंह एडवोकेट ने बहस की।

    बीमार मां से मिलकर घर लौट रहा छात्र की दुर्घटना में मौत

    रेणुकूट। स्थानीय पुलिस चौकी से चंद कदमों की दूरी पर स्थित रोडवेज बस स्टैंड के समीप गुरुवार की भोर में लगभग दो बजे बाइक सवार एक युवक की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। चौकी प्रभारी शिवकुमार सिंह ने बताया कि हर्षित कुमार सिंह उम्र 17 वर्ष पुत्र स्वर्गीय प्रमोद कुमार सिंह राधा कृष्ण मंदिर के समीप का रहने वाला था। वह अपनी बीमार मां को गर्म पानी पहुंचाने हिंडालको हॉस्पिटल गया था इस दौरान लौटकर आते समय बस स्टैंड के समीप बाइक सवार युवक अनियंत्रित होकर आगे जा रहे ट्रक के पिछले हिस्से से टकराकर गिर पड़ा। जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया। मौके पर मौजूद लोगों ने दुर्घटना की सूचना पुलिस को दी तो दुर्घटनास्थल पर पहुंची पुलिस उसे तत्काल हिंडाल्को अस्पताल ले गई जहां चिकित्सकों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। मृत युवक डीसी लेविस मेमोरियल स्कूल कक्षा 12वीं का छात्र था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, हादसे में शामिल ट्रक चालक अपना वाहन लेकर फरार हो गया है।

    एटीएम से लूट का प्रयास करने का आरोपित गिरफ्तार

  • सफलता न मिलने पर एटीम को किया था क्षतिग्रस्त
  • सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने पकड़ा
  • सोनभद्र। पिपरी थाना क्षेत्र के तुर्रा चौराहे पर बीते सोमवार की रात एटीएम तोड़कर पैसे निकालने का प्रयास करने वाला शातिर पुलिस के हत्थे चढ़ गया। जिसके पास से घटना में प्रयुक्त हथियार को भी बरामद किया गया। पुलिस ने विधिक कार्रवाई कर आरोपी बदमाश को जेल भेजा। फ्रेंचाइजी लेकर एक निजी कंपनी के एटीएम का संचालन करने वाले रेणुकूट निवासी विशाल गुप्ता ने पिपरी थाने में तुर्रा चौराहे पर लगे एक एटीएम मशीन से सोमवार की रात अज्ञात युवक द्वारा मशीन को क्षतिग्रस्त कर कैश निकालने के प्रयास का लिखित प्रार्थना पत्र दिया। मामले के खुलासे को लेकर पुलिस अधीक्षक डॉक्टर यशवीर सिंह द्वारा पिपरी पुलिस को विशेष निर्देश देते हुए आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने के लिए कहा गया। गुरुवार की सुबह पिपरी पुलिस द्वारा नौकोठिया मोड़ पर संदिग्ध व्यक्तियों एवं वस्तुओं की चेकिंग के दौरान एटीएम मशीन क्षतिग्रस्त करने वाले आरोपी आकाश कुमार पुत्र सुरेश निवासी वार्ड नंबर 12 तुर्रा थाना पिपरी को धर दबोचा। जिसके पास से घटना में प्रयुक्त लोहे का पाइप पेचकस एक अवैध तमंचा जिंदा कारतूस सहित बरामद कर लिया। पिपरी प्रभारी निरीक्षक दिनेश प्रकाश पांडेय ने बताया कि विगत सोमवार को एटीएम मशीन को क्षतिग्रस्त कर कैश निकालने का प्रयास करने वाले बदमाश को पुलिस ने गुरुवार की सुबह नौकोठिया मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। जिसके पास से घटना में प्रयुक्त औजार भी बरामद किए गए। आरोपी को संगत धाराओं में निरूद्ध कर जेल भेजा गया। बदमाश को गिरफ्तार करने में उपनिरीक्षक महेंद्र यादव कांस्टेबल शिवभजन बिन्द अभिषेक तिवारी शामिल रहे।

    वैवाहिक विवादों को सुलह समझौते से निस्तारण से जुड़ता है परिवार

    सोनभद्र। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार बुधवार की शाम करीब साढ़े चार बजे दांपत्य विभागों से संबंधित प्री लिटिगेशन स्तर पर निस्तारित किए जाने से संबंधित प्री ट्रायल बैठक प्रधान न्यायाधीश संजीव कुमार त्यागी परिवार न्यायालय सोनभद्र की अध्यक्षता में आहूत की गई। जिसमें स्वर्णमाला सिंह ( सिविल जज जूनियर डिविजन) ठाकुर प्रसाद यादव एवं निर्मला शर्मा सदस्य प्री लिटिगेशन परिवारिक दांपत्य विवाद उपस्थित हुए। प्रधान न्यायाधीश संजीव कुमार त्यागी परिवार न्यायालय द्वारा दांपत्य विवादों से संबंधित प्रकरणों को आपस में सुलह समझौते के आधार पर अधिक से अधिक संख्या में निस्तारित किए जाने के लिए निर्देशित किया गया। बैठक में संबंधित सदस्यों को इस बात से भी अवगत करा गया की दांपत्य विभाग के प्री लिटिगेशन स्तर पर आने वाले प्रकरण को गंभीरता के साथ सुलह समझौता करा जाए जिससे कि लोगों के घरों को टूटने से बचाया जा सके। विनय कुमार सिंह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सोनभद्र द्वारा बताया गया कि प्रधान न्यायाधीश के अथक प्रयासों से गठित पीठ द्वारा ऐसे प्रकरणों का सकारात्मक रूप से निपटारा किया जा रहा है।